Saturday, 10 November 2018

तीसरा कौन है ( ज्योतिष की बात ) डॉ लोक सेतिया

       तीसरा कौन है ( ज्योतिष की बात ) डॉ लोक सेतिया 

     इसे मानो चाहे नहीं मानो की सूचि में रख सकते हैं। अभी उस नाम की चर्चा नहीं की जा सकती है। अभी सब इसी चिंतन में हैं कि अगला मोदी कौन अर्थात अगला शासक मोदी या राहुल। भाई ये कोई कुश्ती है दो पहलवानों की जो उन से एक की जीत और एक की हार होगी। धर्म कर्म मानने वाले लोग भूल गये कल क्या होगा कोई नहीं जनता पल भर का भरोसा नहीं और आप अगले चुनाव की अगले वर्ष की बात कर रहे हैं। लो आज इक ज्योतिष की जानकारी से अनजान आदमी घोषणा करता है अगला सत्ताधारी कोई तीसरा होगा। चाहो तो शर्त लगा सकते हो सट्टा गैरकानूनी है। है किसी टीवी वाले जाने माने अथवा हर फ़ोन कंपनी के संदेश वाले ज्योतिषी को मालूम उस तीसरे का नाम , चलो नाम नहीं तो इतना ही बता दो किस राशि का होगा , ये भी नहीं तो बताओ मेरी कुंभ राशि का होगा या मेष राशि का। मेरी इक राशि नाम से है दूसरी जन्म समय से। आपने गलत समझा मुझे राजनीति से कोई मतलब नहीं है और मैं अपनी बात नहीं कर रहा वैसे मेरी धर्म पत्नी को शायद लगता हो कि वो अच्छी नेता बन सकती है। मुझ में नेतागिरी के कीटाणु नहीं हैं। विषय पर आते हैं। विचार करो कि अगर अगले चुनाव में मोदी जी और राहुल जी घोषित कर दें कि उनकी ख्वाहिश नहीं है सत्ता पाने की और अब उनको सच में देश और समाज की सेवा करनी है बिना किसी पद की सत्ता की चाहत के तब क्या भूचाल आ जाएगा जो सवा सौ करोड़ लोगों के पास कोई नहीं होगा काबिल नेता प्रधानमंत्री बनने के लायक। नहीं उनका मोहभंग राजनीति से नहीं होगा और चुनाव भी लड़ेंगे मगर फिर भी होगा कुछ ऐसा जैसे दो बिल्लियों की लड़ाई में बंदर की मौज की कहावत है। मेरा मतलब किसी को बंदर कहने का नहीं है क्योंकि मानहानि की बात संभव है। समझा जाए तो हम बंदर से इंसान बने हैं और बंदर कहलाने में कोई अपमान की बात नहीं है वानरसेना से भगवान राम जंग जीत सकते हैं। 
       आपको आदत है पूछोगे ही कोई हिंट तो देना चाहिए। ठीक है वो पूरब से होगा न पश्चिम से उत्तर से नहीं होगा दक्षिण से भी नहीं , मगर उसका संबंध चारों दिशाओं से होगा। किसी भी एक दल से उसका नाता नहीं होगा और कोई भी दल उससे अछूता नहीं होगा। महिला पुरुष दोनों हो सकते हैं आयु की सीमा कोई नहीं होगी चाहे जितनी आयु हो बूढ़ा नहीं कहलाएगा न ही बचपना बाकी होगा। विवाहित कुंवारे से भी कोई मतलब नहीं है इतना समझ सकते है इसे लेकर दुविधा रहती है अक्सर। कुंडली बन चुकी है मगर अभी काफी उपाय करने को हैं थोड़ा इंतज़ार करें। इक अनुरोध इसे पढ़कर मेरे पास अपना भविष्य पूछने मत चले आना , मुझे किसी को ठगना झूठ बोलना या धोखे में रखकर फायदा उठाना नहीं आता न ही करना है। मगर मेरी बात शत प्रतिशत सही साबित होगी देखना अवश्य।

No comments: